रंगलोक द्वारा 'ताजमहल का टेंडर' की प्रस्तुति: कटाक्ष और हास्य का ज़िम्मेदार उपयोग

  कटाक्ष और व्यंग्य को अकसर मात्रहास्य से जोड़कर देखा जाताहै। पर इस विधाको केवल इस रूप मेंदेखना एक सीमित नज़रिया का

Read more